Category: भारतीय राजनीति

रहस्योद्घाटन के गुणों की व्याख्या : कैसे रहस्योद्घाटन लोकतंत्र का एक भाग है ?

प्रश्न: जहाँ कुछ लोग यह तर्क देते हैं कि रहस्योद्घाटन से लोकतंत्र का निरादर होता है, वहीं अन्य लोगों का […]...

स्वैच्छिक क्षेत्र की अवधारणा : एक राष्ट्रीय प्रमाणन एजेंसी की आवश्यकता पर चर्चा

प्रश्न: भारत में स्वैच्छिक क्षेत्र को अवरुद्ध करने वाले विभिन्न मुद्दों की पहचान कीजिए एवं इन पर काबू पाने हेतु […]...

भारत में भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचार विरोधी कानूनों की स्थिति के संदर्भ में एक संक्षिप्त परिचय

प्रश्न: भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 में हालिया संशोधन प्रवर्तन के प्रति अति उत्साह और भ्रष्ट लोक सेवकों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही […]...

भारतीय संघवाद : राज्यों के आर्थिक एवं राजनीतिक प्रबंधन पर उनके पर्याप्त नियंत्रण

प्रश्न: यद्यपि भारतीय संघवाद काफी हद तक परिपक्वता प्राप्त कर चुका है जहां राज्यों को अपने आर्थिक और राजनीतिक प्रबंधन […]...

न्यायपालिका की स्वतंत्रता का अर्थ : न्यायपालिका की स्वतंत्रता सुनिश्चित करने वाले विभिन्न प्रावधान

प्रश्न: लोकतंत्र में स्वतंत्र न्यायपालिका का क्या महत्व है? न्यायपालिका की स्वतंत्रता सुनिश्चित करने हेतु हमारी राजनीतिक संवैधानिक व्यवस्था में निहित […]...

भारतीय संविधान के निर्माण का संक्षिप्त विवरण : भारतीय संविधान पर भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के प्रभावों पर संक्षिप्त चर्चा

प्रश्न: भारतीय संविधान की भावना भारतीय मूल्यों, पश्चिम के लोकतांत्रिक व समाजवादी आंदोलनों एवं हमारे स्वतंत्रता आन्दोलन के संश्लेषण को निरुपित […]...

भारत के वित्त आयोग के संबंध में परिचय : इसकी संवैधानिक भूमिका एवं उत्तरदायित्व

प्रश्न: वित्त आयोग (FC) की संवैधानिक भूमिका पर प्रकाश डालते हुए, उन मुद्दों की चर्चा कीजिए, जिन पर 15वें वित्त […]...

सामाजिक न्याय की अवधारणा तथा इसके उद्देश्यों की संक्षिप्त व्याख्या : सामाजिक न्याय के साधन के रूप में आरक्षण नीति के पीछे निहित तर्क

प्रश्न: सामाजिक न्याय के उद्देश्यों को पूरा करने की इसकी क्षमता पर विशेष बल देते हुए भारत में प्रोन्नति में […]...

सूचना का अधिकार (RTI) अधिनियम का संक्षिप्त परिचय : अधिनियम के अप्रभावी कार्यान्वयन के कारणों सहित चुनौतियां

प्रश्न: पारित होने के एक दशक से भी अधिक समय बाद, RTI अधिनियम के कार्यान्वयन में काफी कुछ वांछित है। […]...

चुनावी बॉन्ड की अवधारणा की संक्षिप्त व्याख्या : चुनावी प्रक्रिया में पारदर्शिता की मूलभूत आवश्यकताओं को निर्दिष्ट करते हुए परिचय

प्रश्न: राजनीतिक वित्तपोषण में पारदर्शिता की चिंता सरकार द्वारा अधिसूचित चुनावी बॉन्ड योजना से असंगत है। समालोचनात्मक चर्चा कीजिए। (150 शब्द) […]...